इंतज़ार – Waiting For Your Love

इंतज़ार- Waiting For Your Love

बदलता रहा करवटें मैं सारी रात भर…
ना आई नींद मुझे सारी रात भर|

ना जागा ना सोया…
ना जाने था किन खयालों मे खोया,
सारी रात भर|

ख्वाब तो देखे..
पर ना झपकी मेरी पलक,
सारी रात भर|

थी ख्वाबों में,
सांसों में,
हर आहट मे मेरी….
फिर भी न जाने क्यूं करता रहा
इंतेतेज़ार मैं सारी रात भर|

© 2018 RakeshSharma.in, Do not Re-Publish without permission, For Re-Publish on any website, Social Media, Book etc. Please contact me on mail@rakeshsharma.in
Sharing on Social Media is highly appreciated
Follow me on Facebook, Instagram, and Twitter

You may also like